भीमताल में भगवान भोलेनाथ का छोटा कैलाश

By [email protected]

नैनीताल जिले के भीमताल ब्लॉक में एक पहाड़ी के शीर्ष पर स्थित है शिव मंदिर छोटा कैलाश यहाँ तक पहुँचने के लिए आपको हल्द्वानी से सड़क मार्ग पर अमृतपुर, भौर्सा होते हुए पिनरों गाँव तक पहुंचना होता है. पिनरों गाँव से 3-4 किमी की खड़ी चढ़ाई चढ़ने के बाद आप उस पहाड़ी के शीर्ष पर…

कर्ण-मंदिर

By [email protected]

कर्ण-मंदिर 🕉️🙏🏻 किंबदंती अनुसार आज जहां ‘कर्ण-मंदिर’ है वह स्थान कभी जल के अंदर था और कर्णशिला नामक चट्टान की नोक ही जल के ऊपर उदित थी। कुरूक्षेत्र की युद्ध समाप्ति के बाद भगवान कृष्ण ने कर्ण का दाह संस्कार अपनी हथेली पर किया था जिसे उन्होंने संतुलन के लिये कर्णशिला की नोंक पर रखा…

सेम मुखेम – उत्तराखंड का पांचवां धाम!

By [email protected]

सेम मुखेम – उत्तराखंड का पांचवां धाम! भगवान श्री कृष्ण को हम कई रूपों में पूजते हैं उन्ही रूपों में से एक है भगवान नागराजा का रूप | उत्तराखंड की पावन धरती पर समय-समय पर कई देवी-देवताओं ने अवतार लिए हैं, यहाँ की सुन्दरता और पवित्रता पुराणों के युग से प्रसिद्ध है | इसी कड़ी…

कटारमल सूर्य मंदिर

By [email protected]

कटारमल सूर्य मंदिर उत्तराखंड राज्य में अल्मोड़ा जिले के “कटारमल” नामक स्थान पर स्थित है | इसी कारण इस मंदिर को “कटारमल सूर्य मंदिर” कहा जाता है | यह मंदिर 800 वर्ष पुराना एवम् अल्मोड़ा नगर से लगभग 17 किमी की दुरी पर पश्चिम की ओर स्थित उत्तराखंड शैली से बना है एवम् यह मंदिर…