विधानसभा 2022 चुनाव से पहले उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने प्रदेश वासियों के लिए कई घोषणाएं कीं। शुक्रवार को सीएम पुष्कर सिंह धामी ने सरकारी डिग्री कालेजों के छात्रों को टेबलेट देने, पुलिस और राजस्व विभाग के कर्मचारियों को कोविड प्रोत्साहन राशि देने और समूह ‘ख’ के पदों पर अभ्यर्थियों को अधिकतम आयुसीमा में एक साल की छूट देने की घोषणा की। विधानसभा के मॉनसून सत्र में धामी ने कहा कि प्रदेश के सरकारी डिग्री कॉलेजों में पढ़ने वाले सभी एक लाख छात्रों को भी मोबाइल टैबलेट दिया जाएगा और इस पर 100 करोड़ रुपये का व्यय आएगा। इस संबंध में उन्होंने कहा कि सरकार 10 वीं और 12 वीं के छात्रों को पहले ही ऐसे टैबलेट देने की घोषणा कर चुकी है जिनमें उनका पूरा पाठयक्रम भी लोड रहेगा। 

मुख्यमंत्री ने सदन में 2020—21 के दौरान कोविड-19 के दृष्टिगत विधायक निधि में की गई एक करोड रू की कटौती को भी इस साल जारी करने की घोषणा की। धामी ने कहा कि कैंट बोर्डों में निवास करने वाले पूर्व सैनिकों के लिए भवन कर माफ करने के​ लिए यथोचित कार्यवाही होगी। प्रदेश में भू उपयोग को लेकर लोगों द्वारा सोशल मीडिया, पत्राचार और विभिन्न माध्यमों के जरिए जताई जा रही चिंता का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इसके लिए प्रदेश हित में एक कानून बनाने के लिए पूर्व मुख्य सचिव सुभाष कुमार की अध्यक्षता में एक समिति बनाई जाएगी। उन्होंने कहा कि यह समिति सभी पक्षों को सुनकर ऐसी रिपोर्ट तैयार करेगी जिससे न केवल औद्योगिक विकास पर प्रभाव पडे़ बल्कि पलायन भी रुके।